28/03/2014   दिल्ली यातायात पुलिस पूर्ण रूप से भ्रष्टाचार में लिप्त
उ.पू. दिल्लीः- देश की राजधनी दिल्ली में भ्रष्टाचार इस प्रकार व्याप्त है कि इस भ्रष्टाचार को दिल्ली सरकार व केंद्र सरकार भी खत्म करने की काफी जद्दो जहद कर रही है लेकिन यह जद्दो जहद कही न कही आकर नाकारा साबित हो जाती है क्योंकि भ्रष्टाचार को खत्म करने की सबसे पहले सम्बंधित विभाग के विभागध्यक्ष की जिम्मदारी बनती है लेकिन विभाग के वरिष्ठ अधिकारी को भी व्याप्त भ्रष्टाचार से कोई लेना देना नही है। ऐसा ही मामला जिला उत्तर पूर्व यातायात पुलिस का प्रकाश में आया है यहां स्थित खजूरी सर्कल, सीमापुरी सर्कल व शाहदरा सर्कल में भ्रष्टाचार अपनी जड़े इस प्रकार जमा चुका है।

 कि यहां की जनता को भ्रष्टाचार का शिकार होना पड़ता है सबसे पहले हम खजूरी सर्कल की बात करे तो यहां बिना एन्ट्री बतौर रिश्वत दिए कोई भी तीन पहिया वाहन, चार पहिया वाहन या कोई भी वैध या अवैध वाहनों को रोड पर नहीं चला सकते ऐसा ही मामला जब सामने आया तो हमारे कैमरामैन ने दिनांक 17/12/13 को गाड़ी का हेल्पर बनकर भजनपुरा बस स्टेंड के निकट बने यातायात पुलिस बूथ पर जाकर वहां मोजूद तीन सिपाहीयों से बात की और कहां की हमारी मैजिक, ग्रामिण सेवा एवं ईको आदि गाडि़यां चलती है तथा मुझे ऐन्ट्री करवानी है। इस पर एक यातायात पुलिसकर्मी ने कहा कि आप ऐन्ट्री के लिए जेड.ओ साहब से बात कर लो जेड.ओ साहब आगे खड़े है। जब हमारे कैमरामैन ने जेड़.ओ साहब से मुलाकात कर ऐन्ट्री की बात की तो जेड.ओ साहब ने सिपाही ओमदत्त की ओर इशारा करके बात करने को कहा हमारे कैमरामैन ने ओमदत्त से ऐन्ट्री के बारे मेें पूछा तो यातायात पुलिसकर्मी ओमदत्त ने पूछा कि तू कौनसा मार्का चलाता है बोबी, मित्तल, आदिल है यह तो समय पर ऐन्ट्री नहीं करवाते है तुम्हें किस नाम से ऐन्ट्री करवानी है हमारे कैमरामैन ने बोबी के नाम से ऐन्ट्री करवाने को कहा तो सिपाही ओमदत्त ने चार हजार रूपये की मांग की लेकिन कैमरामैन के काफी मिन्नते करने के बाद तीन हजार रूपये में मान गया और अवैध तरिके से तीन हजार रूपये बतौर ऐन्ट्री ले ली है जब यह लेन देन का मामला चल रहा था तो वहां चार यातायात पुलिसकर्मी मौके पर मौजूद थे जो वाहनो को रोक-रोक कर उगाही कर रहें थे। ठीक ऐसा ही मामला दिनांक 14/12/013 व 15/12/013 का है राजीव नगर खजूरी पर यातायात निरीक्षक राकेश कुमार जेड.ओ. राम चरण सिंह सिपाही मनवीर,सतीश व अन्य तीन सिपाही जो वाहनो को रोक-रोक कर उगाही कर रहें थे हमारे कैमरामैन ने यातायात निरीक्षक राकेश कुमार व जेड.ओ की मौजूदगी में सिपाही मनवीर के मांगने पर दो हजार रूपये रिश्वत दे दिए सिपाही मनवीर ने दो हजार रूपये में से एक हजार रूपये जेड.ओ राम चरण सिंह को दे दिए उसके बाद सिपाही सतीश ने पांचवे पुस्ते गांवड़ी पर आकर ऐन्ट्री देने की बात कही लेकिन हमारे कैमरामैन यातायात खजूरी सर्कल भजनपुरा थाना गए जहां यातायात निरीक्षक के ड्राईवर ने  ऐन्ट्री बतौर 500 रूपये ले लिए ऐसा ही एक मामला दिनांक 12/12/013 का है नानकसर क्षेत्रा यमुना पुल पर  तैनात जेड.ओ, सिपाही राजेश व अन्य चार यातायात पुलिसकर्मी अवैध रूप से उगाही कर रहें थे हमारे कैमरामैन ने गाड़ी हेल्पर का बनकर नानकसर से सुन्दर नगरी की ओर जा रहें थे तभी जेड.ओ की मौजूदगी में सिपाही राजेश व राजकुमार ने वाहन रोक रिश्वत की मांग की रिश्वत मांगने पर सिपाही राजेश व राजकुमार को एक बार 600 रूपये व दूसरी बार 400 रूपये दिए गए दिनांक 07/12/013 को नानकसर लाल बत्ती निकट हनुमान मंदिर पर एक जेड.ओ, व चार अन्य  यातायात पुलिसकर्मी वाहनों को रोक-रोक कर उगाही कर रहें थे रिश्वत न देने वाले चालको को वाहन बन्द करने की धमकी दे रहें थे यह सब हमारे कैमरामैन एक वाहन का हेल्पर बन यातायात पुलिसकर्मियों के पास गए जहां जेड.ओ. की मौजूदगी में सिपाही ने एक हजार रूपये की मांग की सिपाही को  एक हजार रूपये दिए गए दिनांक 07/12/013 व 12/12/013 को खजूरी सर्कल के अंतर्गत आने वाले खजूरी लाल बत्ती पर तैनात एक जेड.ओ. व अन्य यातायात पुलिसकर्मी वाहनों को रोक कर उगाही कर रहें थे हमारे कैमरामैन एक वाहन का हेल्पर बन वाहन में बैठ गए उपरोक्त  खजूूरी लाल बत्ती पर सिपाही ने वाहन रोका और 1000/-रू. की मांग की जेड.ओ. की मौजूदगी में सिपाही ने 1000/-रू. ऐन्ट्री बतौर रिश्वत ले लिए।
दिनांक 17/12/013 को यमुना विहार की लाल बत्ती पर तैनात एक जेड.ओ. सिपाही सतीश व हरिंदर एवं अन्य यातायात पुलिसकर्मियों द्वारा वाहनों को रोक-रोक कर चेकिंग व  चालान के नाम पर उगाही की जा रही थी रिश्वत न देने वाले   चालको का भारी जुर्माना व न्यायालय का चालान की धमकी दी जा रही थी तभी हमारे कैमरामैन एक वाहन का हेल्पर बन वाहन में बैठ गए तभी एक सिपाही ने आकर वाहन रोका और तीन हजार रूपये की मांग की और कहा जेड.ओ. साहब से बात कर लो कैमरामैन ने जब जेड.ओ साहब से बात की तो जेड.ओ ने कहा कि इस चक्कर को पूरा करके अगले चक्कर पर 3000/-रू. जमा करा जाना हमारे कैमरामैन जब अगली बार पहुंचे तो वहां मौजूद कुछ यातायात पुलिसकर्मियों को शक हुआ कि उनकी विडियो रिकार्डिंग की जा रही हैं जिसपर हमारे कैमरामैन वहां से निकल गए लेकिन यातायात पुलिसकर्मियों ने चालक से तीन हजार रूपये रिश्वत ले लिए।
अभी तक तो सिर्फ यातायात खजूरी सर्कल का ही भ्रष्टाचार उजागर हुआ लेकिन अब बारी शाहदरा सर्कल और सीमापुरी सर्कल की है। शाहदरा सर्कल में तैनात यातायात निरीक्षक अनिल शर्मा, ए.एस.आई घनश्याम, ए.एस.आई. सुभाष, ए.एस.आई कृष्ण पाल, ए.एस.आई राजबीर, ए.एस.आई राम महर भी भ्रष्टाचार में पूर्ण रूप से लिप्त है सीमापुरी सर्कल में तैनात ए.एस.आई रतन सिंह, सिपाही अनिल कुमार, सिपाही जितेंद्र, सिपाही अरविंद, सिपाही विनोद, सिपाही मनोज राणा, एस.आई राम कुमार व सिपाही राजेश भी भ्रष्टाचार में लिप्त है उपरोक्त सभी यातायात पुुलिसकर्मी वाहनों को रोक चेकिंग व चालान के नाम पर उगाही करते है उपरोक्त सभी मामलों की हमारे कैमरामैन ने शुरू से लेकर आखिरी तक विडियों कैमरे में रिकाॅर्डिंग कर ली और उपरोक्त मामले की शिकायत विडियों सी.डी.सहित भ्रष्टाचार निरोधक शाखा दिल्ली सरकार, केंद्रीय सर्तकता आयोग, आयुक्त दिल्ली पुलिस, यातायात पुलिस मुख्यालय, संयुक्त आयुक्त पुलिस यातायात, सहायक आयुक्त पुलिस यातायात उत्तर पूर्व से की। उपरोक्त सभी मामले की ओरिजनल डिवाईज सहायक आयुक्त पुलिस यातायात प्रेम सिंह हुड्डा को दी जा चुकी है। और उपरोक्त सीमापुरी व शाहदरा सर्कल मामले में ओरिजनल डिवाईज दिनांक 18/06/013 को भ्रष्टाचार निरोधक शाखा को दी जा चुकी है। लेकिन आज तक कोई कार्यवाही नहीं हुई है इनमें से कुछ मामले को पीआरजी यातायात पुलिस मुख्यालय टोडापुर को भेज दिया गया जहां शिकायतकर्ता को घंटो बैठाकर परेशान किया जाता है शिकायतकर्ता औपचारिक्ता व जांच पूर्ण करने में सहयोग देता है लेकिन आज तक कोई कार्यवाही का नामो निशान नहीं है कार्यवाही तो हुई नहीं लेकिन भ्रष्ट पुलिसकर्मियों ने कार्यवाही न करने के ऐवज में शिकायतकर्ता को रूपये देने का दबाव बनाया शिकायतकर्ता उससे भी नहीं माना तो दिनांक 08/01/013 को उपरोक्त भ्रष्ट पुलिसकर्मी अनिल कुमार, मुनव्वर, आबिद, आकिल चैध्री ,असलम कुरैशी जैसे खुखंार बदमाशों को लेकर शिकायतकर्ता के निवास स्थान पर जबरन रूपयो से भरा लिफाफा दे गए उस वक्त शिकायतकर्ता घर पर नहीं था शिकायतकर्ता जब घर पर लौटा तो उसने देखा कि उसकी पत्नी कापफी दहशत में थी क्योंकि उपरोक्त भ्रष्ट पुलिसकर्मी व खुखंार बदमाश शिकायतकर्ता की पत्नी को ध्मकी देकर गए कि अपने पति को समझा लेना कही तुझे अपने पति से हाथ धेना पड़ जाए यह सब देख शिकायतकर्ता ने किसी न किसी बहाने से उपरोक्त बदमाशों को घर बुलाकर लिपफापफे को लौटा दिया इन सब मामलों से तो यही लगता है कि कोई कही भी शिकायत कर ले संबंध्ति विभाग भ्रष्टाचार को खत्म करने की कोशिश तक नहीं करता है। जब देखना यह होगा कि उपरोक्त मामलो में की गई शिकायतों पर संबंध्ति विभाग कार्यवाही करेगा या इसी प्रकार से भ्रष्टाचार को बढ़ावा मिलता रहेगा यह तो समय ही बताएगा। 



Back

भ्रष्टाचार मैं लिप्त कई यातायात पुलिस कर्मियों के खिलाफ मुकदमे दर्ज़
 

नई दिल्ली : ! दिल्ली पुलिस के बिजिलेंस विभाग ने रिश्वत लेने के आरोप में कई यातायात पुलिस कर्मियों के खिलाफ मुक़दमे दर्ज किया है । यातायात प&#


दिल्ली यातायात पुलिस पूर्ण रूप से भ्रष्टाचार में लिप्त
 

उ.पू. दिल्लीः- देश की राजधनी दिल्ली में भ्रष्टाचार इस प्रकार व्याप्त है कि इस भ्रष्टाचार को दिल्ली सरकार व केंद्र सरकार भी खत्म करने की का&


डी.डी.ए. भूमि आवंटन विभाग भ्रष्टाचार का केंद्र।
 

दिल्लीः- दिल्ली विकास प्राधिकरण भूमि आवंटन विभाग भ्रष्टाचार का केंद्र बन चुका है भूमि आवंटन विभाग में कार्यरत सभी छोटे बड़े अधिकारी पू


यह है जिला गाजियाबाद यहां चलती है सभी की हमारे बाद- यातायात पुलिस
 

जिले में यातायात पुलिस की दबंगई अपने चरम पर जिला गाजियाबादः- जिले में लगभग सभी क्षेत्रों में तैनात यातायात पुलिस के अध्किारी भ्रष्टाच


भाजपा लोजपा गठबंधन

नई दिल्ली। भाजपा-लोजपा गठबंधन में अभी भी पेंच फंसा हुआ है। लोजपा संसदीय दल की बैठक होने वाली थी और उम्मीद थी कि दोपहर बाद गठबंधन पर फैसला क&


यूपीए कार्यकाल में किसान हुआ खुशहाल: तंवर

चंडीगढ़। हरियाणा कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष एवं सांसद डा. अशोक तंवर ने कहा है कि यूपीए सरकार के पिछले दस वर्ष के कार्यकाल में देश व प्रदे


सभी ब्लाॅकों से वीडियो कांफ्रेसिंग की सुविधा उपलब्ध

देहरादून:आने वाले जून तक राज्य के सभी ब्लाॅकों से वीडियो कांफ्रेसिंग की सुविधा उपलब्ध हो जायेगी। जुलाई तक आईटी पार्क में स्टेट-आफ-आर्ट ç


कानून विषय पर राज्य स्तरीय कॉन्फ्रेंस का आयोजन

ग्रेटर नोएडा। नॉलेज पार्क स्थित लॉयड लॉ कॉलेज में बीते दिन भारत में सुरक्षा और विनियम अधिनियम विषय पर राज्य स्तरीय कॉन्फ्रेंस का आयोजन


किसानों और मजदूरों की समस्याओं से रूबरू हुए कांग्रेस उपाध्यक्ष
 

सोनीपत। हरियाणा के सोनीपत की गन्नौर स्थित अन्तर्राष्ट्रीय हार्टिकल्चर मण्डी में लगी चौपाल में धीरेन्द्र सिंह के नेतृत्व में जनपद गौ


ग्रेटर नोएडा। उत्तर प्रदेश बोर्ड परीक्षा में नकल रोकने को लेकर जिला प्रशासन ने पूरी ताकत झोंक दी है

ग्रेटर नोएडा। उत्तर प्रदेश बोर्ड परीक्षा में नकल रोकने को लेकर जिला प्रशासन ने पूरी ताकत झोंक दी है। बीते दिन जिलाधिकारी एवी राजामौली न

Disclaimer :- For any compalints regarding news, content, pic, video contact on +91 9717121916. No one is responsible for anything.